17 कोरोना  पॉजिटिव मरीजों  की सेकंड जांच के लिए सैंपल भेजा गया, रिपोर्ट  नेगेटिव आने पर घर भेजा जाएगा,कलेक्टर ने डायबिटीज एवं हाइपरटेंशन के मरीजों को से आग्रह किया है कि वे कोरोनावायरस लक्षणों को नजरअंदाज न करें एवं तुरंत कंट्रोल रूम को सूचना दें

उज्जैन 1 मई। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के स्वास्थ्य में निरंतर सुधार आ रहा है 17   कोरोना पॉजिटिव मरीज ऐसे है जिनकी 14 दिन बाद की पहली रिपोर्ट नेगेटिव आई है। पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज में क्वारन्टीन किये गए  इन सभी मरीजों की 24 घण्टे बाद आज सेकंड रिपोर्ट के लिए नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र   ने बताया कि जैसे ही इन सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आती है सभी को अपने-अपने घरों में   भेज दिया जाएगा जंहा इन्हें अगले 14 दिन  के लिए होम क्वॉरेंटाइन में रहना होगा। उल्लेखनीय है कि बड़ी संख्या में मरीजों के ठीक होने की उम्मीद से स्वास्थ्य का अमला उत्साहित नजर आ रहा है।


कलेक्टर ने डायबिटीज एवं हाइपरटेंशन के मरीजों को से आग्रह किया है कि वे कोरोनावायरस लक्षणों को नजरअंदाज न करें एवं तुरंत कंट्रोल रूम को सूचना दें


उज्जैन 1 मई । कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने वीडियो अपील। जारी कर उज्जैन जिले के सभी ऐसे नागरिकों से अपील की है कि जिन को पहले से ही डायबिटीज  व  हाइपरटेंशन की बीमारी है  वे  सर्दी खांसी बुखार एवं सांस लेने में तकलीफ होने के लक्षणों को नजरअंदाज ना करें तथा इसकी सूचना कंट्रोल रूम  104  पर  दे  अथवा नजदीक के अस्पताल में जाकर अपना परीक्षण करवाएं। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस ऐसे लोगों पर ज्यादा प्रभाव डालता है जिनको पूर्व से ही कोई बीमारी चली आ रही है। इसलिए कोरोना वायरस के लक्षणों की  अनदेखी  न की जाए ।अपनी जांच करवाये  और  संक्रमण से  बचे ।


Popular posts
जल की बात जलाशय पर -जल योद्धा उमा शंकर पांडे आँखों में पानी बचेगा तभी पानी बचेगा –टिल्लन रिछारिया
भारतीय चिंतन परम्परा में प्रकृति, भगवान के समतुल्य  हरियाली अमावस्या पर्व पर राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी में सम्मिलित हुए देश दुनिया के विद्वान और प्रतिभागी
द्रौपदी तत्कालीन नारी अत्याचार की प्रतीक - डाॅ  जोशी
Image
वाल्मीकि समाज अधिकारी-कर्मचारी संघ जिला इकाई में नियुक्तियाँ
दौलतगंज क्षेत्र में दुकान व्यवसाईयो द्वारा कचरा खुले में फेंकने एवं डस्टबिन नहीं रखने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल