मदरर्स-डे पर ऑनलाइन प्रतियोगिता वात्सल्य का सफल आयोजन

मदरर्स-डे पर ऑनलाइन प्रतियोगिता वात्सल्य का सफल आयोजन
उज्जैन। भरत भूमि नाट्य संस्कृति संस्थान उज्जैन और डिवाइन वेस्ट मैनेजमेंट एंड सर्विसेस द्वारा आयोजित सुन भी सुना भी के अंतर्गत मातृत्व दिवस के अवसर पर ऑन लाईन प्रतियोगिता 'वात्सल्यÓ का आयोजन किया गया। संस्था के सचिव हरदीप दायले ने बताया कार्यक्रम की रूप रेखा उपाध्यक्ष अंकित जोशी ने बनाई, जिसका संयोजन अध्यक्ष जितेंद्र वाडिया ने किया, जिसमें बच्चों के लिये कविता प्रतियोगिता रखी गई। माताओं के लिये लोरियां तथा माँ-बच्चों के संवाद की प्रस्तुति वीडियो के माध्यम से रखी गई। उज्जैन के अलावा रतलाम मंदसौर, इन्दौर, शाजापुर, छत्तीसगढ़ आदि स्थानों से प्रतिभागियों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। प्रतियोगिता का आयोजन तीन चरण में किया गया। कविता, संवाद, लोरी, जिसमें कविता में श्रुति गुंजन प्रथम, देशना डोडिया इन्दौर ने दूसरा व वैष्णवी शर्मा शाजापुर ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। संवाद में प्रथम स्थान अनुष्का देवधरे उज्जैन, दूसरा स्थान देवांश चतुर्वेदी व मानसी शर्मा ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। लोरी में प्रथम स्थान श्रीमती अमिता जोशी शाजापुर ने प्राप्त किया। दूसरे स्थान पर स्वाति शर्मा उज्जैन तथा तीसरे स्थान पर वीना गोयल रतलाम रही। कार्यक्रम की शुरुआत नीलेश मनोहर एवं दीर्घा मनोहर ने मां के गीतों से की। इसके बाद लाईव में मालवी भाभी इन्दौर, शैलेन्द्र व्यास 'स्वामी मुस्कुराकेÓ, सुदर्शन आयाचित एवं मुम्बई से बॉलीवुड एक्टर, प्रेम रतन धन पायो /सिक्रेट गेम वेबसिरिज फेम क्षितिज सिंह पंवार ने मातृत्व पर अपना उद्बोधन दिया। शुभम शर्मा ने आभार माना। विजेता प्रतिभागियों की घोषणा जितेंद्र गुर्जर वाडिया ने की। कार्यक्रम को मूर्त रूप देने का कार्य संस्था सदस्य शुभम सारवान, उमेश गोंदिया, अभिषेक सोलंकी ने किया।


Popular posts
जल की बात जलाशय पर -जल योद्धा उमा शंकर पांडे आँखों में पानी बचेगा तभी पानी बचेगा –टिल्लन रिछारिया
भारतीय चिंतन परम्परा में प्रकृति, भगवान के समतुल्य  हरियाली अमावस्या पर्व पर राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी में सम्मिलित हुए देश दुनिया के विद्वान और प्रतिभागी
द्रौपदी तत्कालीन नारी अत्याचार की प्रतीक - डाॅ  जोशी
Image
वाल्मीकि समाज अधिकारी-कर्मचारी संघ जिला इकाई में नियुक्तियाँ
दौलतगंज क्षेत्र में दुकान व्यवसाईयो द्वारा कचरा खुले में फेंकने एवं डस्टबिन नहीं रखने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल