मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने किया स्ट्रीट वेंडर्स को ऋण पत्रक वितरण
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने किया स्ट्रीट वेंडर्स को ऋण पत्रक वितरण

उज्जैन:  शुक्रवार को बृहस्पति भवन में मा. मुख्यममंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के मुख्य आतिथ्य एवं केबिनेट मंत्री डाॅ. मोहन यादव, सांसद श्री अनिल फिरोजिया, पूर्वमंत्री श्री पारस जैन, विधायक श्री बहादूर सिंह चैहान, कृषि उपजमण्डी अध्यक्ष श्री बहादूर सिंह बोरमुंडला, महापौर श्रीमती मीना विजय जोनवाल की उपस्थिति में मुख्यमंत्री पथ विक्रता उत्थान योजना के पत्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना अन्तर्गत ऋण पत्रक वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया।
मा. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान द्वारा हितग्राहियों को सम्बोधित करते हुए कहा गया कि आप को शासन द्वारा प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना अन्तर्गत राशि रूपये 10,000/- का लोन उपलब्ध कराया जा रहा है जो कि पूर्णतः ब्याज से मुक्त होकर बिना किसी ग्यारंटी के दिया जा रहा है। जिसे हितग्राही को 1 वर्ष तक नियमित रूप से चुकाने पर अगले साल पुनः हितग्राही राशि रूपये 20000/- का लोन हितग्राही प्राप्त कर सकता है।
    कार्यक्रम के दौरान मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक भैरवगढ़ एवं सेंट्रल बैंक आॅफ इण्डिया द्वारा स्वीकृत ऋण प्रकरणों में से प्रतिकात्मक चयनित पांच हितग्राहियों श्रीमती सजन बाई, श्री राकेश, श्री सुभाष, श्री शकील, श्री जयराम को मा. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान द्वारा ऋण वितरण किया गया।
उल्लेखनीय है कि इस योजना अन्तर्गत उज्जैन नगर निगम सीमा क्षैत्र में 18135 पंजीकृत हितग्राहियों का पंजीयन किया जा चुका है। जिनमें से 12825 का फिल्ड टीम द्वारा सत्यापन किया जाकर जिसमें आज दिनांक तक 5379 हितग्राहियों के पहचान पत्र एवं प्रमाण पत्र पोर्टल पर जारी किये जा चुके हैं। जिन हितग्राहियों के पहचान पत्र एवं प्रमाण पत्र पोर्टल पर जारी किये जा चुके हैं उनमे से 2403 हितग्राहियों के आॅन लाईन लोन आवेदन बैंकों में प्रेषित कर 1038 हितग्राहियों के ऋण प्रकरणो में स्वीकृति की जाकर 408 हितग्राहियों को ऋण वितरण भी कर दिया गया है।
कार्यक्रम के दौरान संभागायुक्त श्री आनंद शर्मा, आईजी श्री राकेश गुप्ता, कलेक्टर  श्री आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सिंह एवं आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल उपस्थित रहे।


आयुक्त ने किया जलकुंभ सफाई कार्य का निरीक्षण

उज्जैन:  आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा अपने नियमित सफाई व्यवस्था निरीक्षण के क्रम में शुक्रवार को  रामघाट क्षैत्र में क्षिप्रा नदी से जलकुंभ सफाई कार्य का निरीक्षण किया गया। उक्त क्षैत्र में निगम अमले द्वारा क्षिप्रा नदी से जलकुंभ निकाली जाकर नदी की सफाई का कार्य करवाया जा रहा है।
    निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जलकुंभ हटाये जाने का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। इस अवसर पर अपर आयुक्त श्री मनोज पाठक उपस्थित रहे।


महापौर ने किया मा. मुख्यमंत्री का स्वागत

उज्जैन: मा. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के उज्जैन आगमन पर महापौर श्रीमती मीना विजय जोनवाल द्वारा पुलिस लाईन हेलीपेड पहुंच कर मा. मुख्यमंत्री जी का पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया।


रेनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित करने वाले भवन स्वामी निगम में अपनी जमा राशि प्राप्त कर सकतें है - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल के निर्देशानुसार ऐसे भवन स्वामि जिन्होने अपने भवनों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित कर लिये है उनकी जमा राशि लौटाई जा रही है। भवन निर्माता तुरंत अपने झोन कार्यालय के भवन निरीक्षक से सम्पर्क कर स्थापित रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की जांच कराकर अपनी जमा राशि की छाया प्रति साधारण आवेदन के उपलब्ध कराने पर जमा राशि सम्बंधित भवन स्वामी को शीघ्र लोटा दी जावेगी।
    महापौर श्रीमती मीना विजय जोनवाल एवं आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल ने नागरिकों से अपील की है कि वे अपने भवनों में रैनवाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित कर भूजल स्तर सुधार करने में सहयोग प्रदान करें। नागरिकों द्वारा जमा राशि निगम द्वारा रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित किये जाने के बाद शीघ्र लौटाई जा रही है।


Popular posts
जल की बात जलाशय पर -जल योद्धा उमा शंकर पांडे आँखों में पानी बचेगा तभी पानी बचेगा –टिल्लन रिछारिया
भारतीय चिंतन परम्परा में प्रकृति, भगवान के समतुल्य  हरियाली अमावस्या पर्व पर राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी में सम्मिलित हुए देश दुनिया के विद्वान और प्रतिभागी
द्रौपदी तत्कालीन नारी अत्याचार की प्रतीक - डाॅ  जोशी
Image
वाल्मीकि समाज अधिकारी-कर्मचारी संघ जिला इकाई में नियुक्तियाँ
दौलतगंज क्षेत्र में दुकान व्यवसाईयो द्वारा कचरा खुले में फेंकने एवं डस्टबिन नहीं रखने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल