दौलतगंज क्षेत्र में दुकान व्यवसाईयो द्वारा कचरा खुले में फेंकने एवं डस्टबिन नहीं रखने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल
दौलतगंज क्षेत्र में दुकान व्यवसाईयो द्वारा कचरा खुले में फेंकने एवं डस्टबिन नहीं रखने पर निरंतर चालानी कार्यवाही की जाए - आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल

उज्जैन: आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल द्वारा नियमित रूप से किये जा रहे सफाई व्यवस्था निरीक्षण के क्रम में मंगलवार को रहवासी क्षेत्र के साथ-साथ व्यवसायिक क्षेत्रों दौलतगंज, दौलतगंज सब्जी मंडी, घी मंडी एवं मालीपुरा क्षेत्र में पहुंचकर सब्जी विक्रय का कार्य कर रहे ठेला व्यवसायियों से चर्चा करते हुए समझाइश दी गई कि सब्जियों का कचरा खुले में ना फेंकते हुए कचरा गाड़ियों में ही डालें प्रायः यह देखने में आता है कि सब्जी विक्रय के पश्चात शेष बची सब्जियों को खुले में ही फेंक दिया जाता है जिससे क्षेत्र में गंदगी फैलती है एवं शहर की छवि भी धूमिल होती है।
दौलतगंज स्थित किराना व्यवसाईयों द्वारा भी दुकानों से निकलने वाला कचरा नालियों में ही फेंक दिया जाता है, उक्त स्थिति सामने आने पर आयुक्त द्वारा  नाराजगी व्यक्त करते हुए वार्ड के संबंधित नोडल अधिकारी को निर्देशित किया गया कि व्यवसायियों को समझाई दी जाए कि कचरा खुले में ना फेखते हुए डस्टबिन में ही डालें एवं अपनी दुकानों के बाहर दो बड़े बड़े डस्टबिन रखे जाएं यदि समझाईश के बाद भी नहीं माने तो ऐसे व्यवसायियों पर स्वास्थ्य निरीक्षक, मेट अथवा दरोगा के माध्यम से सख्ती के साथ जुर्माने की निरंतर कार्यवाही करवाई जाए। साथ ही ग्लोबल कंपनी द्वारा भी क्षेत्र में कचरा कलेक्शन वाहन समय पर नहीं पहुंचने पर कंपनी पर भी जुर्माना लगाया जाए।
निरीक्षण के दौरान पूर्व में सिहंपूरी क्षेत्र के रहवासियों द्वारा खुले में कचरा पॉइंट बनने की समस्या से आयुक्त महोदय को अवगत करवाया गया था मंगलवार को क्षेत्र में पुनः निरीक्षण के दौरान रहवासियों द्वारा बताया गया कि अब क्षेत्र में कचरा पॉइंट नहीं बनते हैं साथ ही कचरा गाड़ी भी समय से आती है एवं सकरी एवं छोटी गलियों में नागरिकों से पूछा कि आप लोग घरों से निकलने वाला कचरा गाड़ियों में कैसे डालते हैं तब रहवासियों द्वारा कहा कि छोटी गलियों में कचरा वाहन नहीं आ पाते हैं निगम के कर्मचारी गलियों में सीटी बजाते हुए कचरा अलग अलग एकत्रित करते हुए सफाई व्यवस्था को बनाए रखते हैं। यह जवाब सुनकर आयुक्त द्वारा रहवासियों की प्रशंसा की गई साथ ही कहा कि आपके इन्ही सकारात्मक फीडबैक से शहर को स्वच्छता अभियान में अग्रणी बनाएंगे।
  निरीक्षण के दौरान उपायुक्त श्री संजेश गुप्ता, जनसंपर्क अधिकारी श्री प्रदीप सेन, स्वास्थ्य अधिकारी श्री संजय कुलश्रेष्ठ उपस्थित रहे।



दिव्यांग पेंशन धारियों को बैंकिग करस्पोण्डेंट के द्वारा घर पहुंच सेवा के माध्यम से पेंशन उपलब्ध करवायी जावेंगी

उज्जैन: नगर पालिक निगम के द्वारा दिव्यांग पेंशन धारियों को बैंकिग करस्पोण्डेंट के द्वारा घर पहुंच सेवा के माध्यम से पेंशन उपलब्ध करवायी जावेंगी। जिसके लिये नगर पालिक निगम उज्जैन के दिव्यांग पेंशन हितग्राहियों के पेंशन शाखा में पंजीकृत मोबाईल नम्बर पर सम्बन्धित वार्ड के बैंकिग करस्पोण्डेंट का मोबाईल नम्बर भेजा जायेगा। जिससे सम्पर्क कर हितग्राही घर पर पेंशन प्राप्त कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त निगम कार्यालय द्वारा दिव्यांग पेंशनधारियों की सुविधा के लिये हेल्पलाईन नम्बर 0734-2535328 जारी किया गया दिव्यांग पेंशनधारी पेंशन प्राप्त करने में परेशानी होने पर हेल्पलाईन नम्बर पर संपर्क कर सकते हैं।


CSR गतिविधि के माध्यम से किया स्वच्छता कर्मियों का सम्मान समारोह

उज्जैन: नगर निगम की सहयोगी संस्था ओम साईं विजन एवं युवा मंच सत्संग समिति के द्वारा वार्ड क्रमांक 49 स्थित गुजराती समाज धर्मशाला मेें कोरोना योद्धाओं का सम्मान किया गया जिसमें युवा मंच के संस्थापक श्री गोपाल बरलवाल, अध्यक्ष श्री मनोहर परमार, दरोगा श्री विनोद शिन्दे, ओम साई विजन के प्रोजेक्ट मैनेजर श्री गजेंद्र सिंह सेंधव व वार्ड रहवासियो द्वारा स्वच्छता कर्मियों का सम्मान किया गया।
जिस प्रकार कोरोना जैसी महामारी के चलते व लाकडाउन के समय भी हमारे स्वच्छता कर्मियों ने डटकर कार्य किया वह सराहनीय है व उन्हें और सावधानियाँ बरतने की सलाह दी गई संस्था द्वारा सफाई कर्मियों का शॉल व साड़ी भेंटकर सम्मान किया गया, साथ ही पर्यावरण को देखते हुए सम्मान में फूलों की जगह मोतियों से बनी मालाओं से सम्मान करते हुए कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरण का निरंतर उपयोग करने की समझाईश देते हुए बताया गया कि आप जो सफाई करते है उस कचरे में कई प्रकार का हानिकारक कचरा भी हो सकता है उससे बचाव के लिए आपको मास्क, ग्लब्स, जैकेट, केप, जम बूट व सेनिटाइजर का निरंतर उपयोग करना चाहिए जिससे आप सुरक्षित रहे व आपको किसी प्रकार की बीमारी ना हो साथ ही सभी को स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के बारे में जानकारियाँ उपलब्ध करवाए गई व बताया गया कि इस बार हमें ओर मेहनत कर उज्जैन को स्वच्छता में प्रथम स्थान दिलाना है आप सभी के सहयोग से ही हम उज्जैन को नम्बर 1 बना सकते है।


Popular posts
जल की बात जलाशय पर -जल योद्धा उमा शंकर पांडे आँखों में पानी बचेगा तभी पानी बचेगा –टिल्लन रिछारिया
भारतीय चिंतन परम्परा में प्रकृति, भगवान के समतुल्य  हरियाली अमावस्या पर्व पर राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी में सम्मिलित हुए देश दुनिया के विद्वान और प्रतिभागी
द्रौपदी तत्कालीन नारी अत्याचार की प्रतीक - डाॅ  जोशी
Image
वाल्मीकि समाज अधिकारी-कर्मचारी संघ जिला इकाई में नियुक्तियाँ